अपने पहले मैच में कप्तानी कर रहे संजू सैमसन ने 63 गेंदों पर 119 रनों की बेहतरीन पारी खेली। वे बतौर कप्तान अपने डेब्यू करने वाले और शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बनें और रिकॉर्ड भी बनाया। लेकिन फिर भी राजस्थान रॉयल्स सोमवार को वानखेड़े स्टेडियम में आईपीएल मुकाबले में 4 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

पंजाब किंग्स ने 222 रन बनाए थे और इस लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान रॉयल्स ने 20 ओवरों में सात विकेट पर 217 रन बनाए। अंतिम गेंद पर सैमसन को टीम को जिताने के लिए पांच रन चाहिए थे। संजू सैमसन ने लास्ट बॉल पर छक्का मारने की कोशिश की लेकिन उनकी बॉल को दीपक हुड्डा ने कैच कर लिया जिस से वे आउट हो गए। हालाकिं इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसा किया जिसके कारण उन्हें वाहवाही भी मिल रही है वहीं कुछ लोग उन्हें क्रिटिसाइज भी कर रहे हैं।

सैमसन का ये फैसला पड़ा भारी

राजस्थान रॉयल्स को जब जीत के लिए आखिरी दो गेंदों पर पांच रन चाहिए थे, तो संजू सैमसन ने क्रिस मॉरिस को एक रन लेने के लिए मना कर दिया। इससे राजस्थान की टीम पर दबाव बना और उन्हें लास्ट बॉल पर 5 रन बनाने थे। अगर संजू चौका भी मार देते तो ये मैच सुपर ओवर में पहुंच जाता, लेकिन संजू ने छक्का लगाने को कोशिश में अपना विकेट गंवा दिया।

लास्ट ओवर की पांचवीं गेंद पर संजू सैमसन ने नॉन स्ट्राइकर एंड पर मौजूद क्रिस मॉरिस को एक रन लेने के लिए मना कर दिया। आखिरी शॉट में सैमसन ने शॉट तो लगाया, पर वह बाउंड्री लाइन पर खड़े दीपक हुडा के हाथों में गई.

सोमवार को पंजाब किंग्स के हाथों राजस्थान को चार रन से हार का सामना करना पड़ा। पंजाब किंग्स ने छह विकेट पर 221 रन बनाए। इसके जवाब में राजस्थान रॉयल्स 17 रन ही बना सकी।


You may also like

IPL-14: रॉयल्स और पंजाब किंग्स टीमों की ये हो सकती है Playing 11, देखें
बिकनी लुक में बोल्ड दिखती है विराट कोहली की बीवी, यकीन नहीं तो देखें तस्वीरें