आईपीएल 2020 यूएई में होने वाले आयोजन को लेकर उठ रहे हैं ऐसे सवाल।

आज इस आर्टिकल में हम आपको आईपीएल 2020 के बारे में बताने जा रहे हैं जब 19 सितंबर से ही हुई में खेला जाएगा इस आयोजन को लेकर तमाम सवाल उठ रहे हैं जो लाजमी भी है।


आईपीएल के आयोजन से जुड़ा मुख्य सवाल क्वारंटाइन, जांच और आइसोलेशन प्रोटोकॉल के संबंध में है। सभी फ्रैंचाइजी की सबसे बड़ी चिंता यह है कि अगर टीम को कोई सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित हो गया तो आगे क्या होगा क्या इसके बाद टीम के सभी सदस्यों की कोरोना वायरस की जांच होगी क्या सभी सदस्यों को एक ही होटल में आइसोलेशन में रखा जाएगा और अगर अन्य टीम के सदस्य भी वहां रूके होंगे तो अगला मैच रद्द हो जाएगा या सभी की जांच किये जाने तक स्थगित रहेगा।

फ्रैंचाइजी यह भी जानना चाहते हैं कि अगर किसी सदस्य ने जैव सुरक्षित वातावरण में रहने के नियम का उल्लंघन किया तो फिर क्या किया जाएगा? इंग्लैंड के क्रिकेटर जोफ्राआर्चर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में इस नियम का उल्लंघन किया था तो उन्हें पांच दिन आइसोलेशन में रहना पड़ा था और उनके दो कोरोना टेस्ट नेगेटिव आने के बाद ही उन्हें टीम के साथ जुड़ने दिया गया था।


यूएई में टीम को कहीं वैसे होटल में न ठहरना पड़ जाए, जहां और लोग भी ठहरे हों

फ्रैंचाइजी इस बात को लेकर भी चिंतित हैं कि यूएई में टीम को कहीं वैसे होटल में न ठहरना पड़ जाए, जहां पर्यटक और यात्री भी ठहरे हुए हों। यूएई में आईपीएल के दौरान सभी टीम को करीब 80 दिनों तक रुकना होगा और इतने लंबे समय तक उनके सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना फ्रैंजाइजी की एक बड़ी जिम्मेदारी होगी। कुछ फ्रैंचाइजी ने संचालन परिषद को यह बता दिया है कि वे टीम को लेकर 20 या 21 अगस्त तक यूएई पहुंच जाना चाहते हैं, ताकि खिलाड़ियों को प्रशिक्षण के लिए कम से कम तीन सप्ताह का समय मिल सके।

loading...

You may also like

क्रिकेटर हार्दिक पांड्या - हार्दिक पांड्या और टीवी अभिनेत्री नताशा स्टेनकोविच  बने माता-पिता 
जानिए क्यों कोहली को 'क्रिकेट का किंग' कहा जाता है, विराट सचिन के इन रिकॉर्ड्स को तोड़ देंगे