कोरोनावायरस के कारण भारत सहित पूरी दुनिया में तालाबंदी की स्थिति है। इस कारण से, क्रिकेटर्स एक अवांछित ब्रेक पर हैं। टीम इंडिया, वॉल और पूर्व मध्यक्रम के बल्लेबाज राहुल द्रविड़ इसे क्रिकेटरों के लिए पसंदीदा मानते हैं। उन्होंने कहा कि अगर क्रिकेटरों को इस अनचाहे ब्रेक का सही तरीके से इस्तेमाल करने को मिलता है, तो उनके करियर में 2-3 साल का इजाफा होगा। राहुल द्रविड़ का मानना ​​है कि इस लॉकडाउन में भी, क्रिकेटर्स जो अपनी फिटनेस बनाए रखेंगे और घर पर व्यायाम करना जारी रखेंगे, खेल शुरू होने पर जल्दी से लय पा सकेंगे।

राहुल द्रविड़ ने कहा कि इस समय का सही उपयोग होना चाहिए और खिलाड़ियों को आराम करना चाहिए। द्रविड़ कहते हैं कि आराम केवल शरीर को आराम देने के लिए नहीं है, बल्कि मन को आराम देने के लिए है। इतने लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहने के बावजूद, भारतीय क्रिकेटर्स बल्लेबाजी या गेंदबाजी करना नहीं भूल रहे हैं। सभी खिलाड़ी उच्च योग्यता वाले, प्रतिभा के धनी और साथ ही कड़ी मेहनत करने वाले होते हैं। इसलिए, जब भी खेल शुरू होता है, बिना समय गंवाए, वह अपने फॉर्म को फिर से हासिल करेगा और फिर से सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलना शुरू करेगा।



टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि वह इस अवांछित ब्रेक को कई क्रिकेटरों के शरीर और दिमाग को आराम देने के मौके के रूप में देख रहे हैं। क्रिकेटरों को भी इसे इसी रूप में लेना चाहिए। उन्हें इतना अच्छा मौका फिर कभी नहीं मिलेगा। द्रविड़ ने कहा कि अगर आप इन दो-तीन महीनों का अच्छे से इस्तेमाल करते हैं तो आप अपने करियर को 2-3 साल और बढ़ा सकते हैं। द्रविड़ ने कहा कि अगर क्रिकेटरों ने अपने समय का अच्छा उपयोग किया, तो उन्हें लौटने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

द्रविड़ ने इस मौके पर यह भी कहा कि बड़े आयोजन से पहले खिलाड़ियों को फिटनेस हासिल करने के लिए पूरा समय दिया जाना चाहिए। इससे उन्हें आत्मविश्वास मिलेगा। उन्होंने कहा कि सामान्य फिटनेस और मैच फिटनेस में बहुत अंतर है। ऐसी कठिन परिस्थिति में, हमें खुद को फिट रखने के लिए अधिकतम प्रयास करने चाहिए। आपको बता दें कि कुछ समय पहले सचिन तेंदुलकर ने भी भारतीय क्रिकेटरों को कुछ ऐसी ही सलाह दी थी। उन्होंने खिलाड़ियों को अपनी बैटरी रिचार्ज करने की चेतावनी दी थी। थोड़ा ऑफ टाइम भी महत्वपूर्ण है। लगातार खेलने से शीर्ष पर बने रहना मुश्किल हो जाता है। इसलिए, रिचार्ज होने के लिए, क्रिकेट से दूरी बनाए रखना भी महत्वपूर्ण है।

loading...

You may also like

जोफ्रा आर्चर जिस चीज को खोजते-खोजते हो गए थे पागल, आखिरकार गेस्ट बेडरूम में मिली
आईसीसी टी-20 विश्व कप पर भी पड़ सकता है कोरोना का असर