इंटरनेट डेस्क : महिलाए आज हर क्षेत्र में आगे है वह पुरुषों से कंधें से कंधा मिलाकर चलती है बस जरुरत है होती है उन्हे सही मार्ग दर्शन और प्रोत्साहन की जिससे वह सफलताओ तक पहुंचती है आज हम खेल जगत से जुड़ी इस फेमस महिला प्लेयर के बारे मे बात कर रहें है जिन्होने कई बेहतरीन खिताब अपने नाम किए है। 34 साल की कविता देवी वेटलिफ्टिंग में स्वर्ण पदक विजेता रह चुकी है। कविता देवी पहली भारतीय पेशेवर बेहद मजबूत महिला पहलवान है जो इस खेल की बुनयादी समझ रखती है, साथ ही जीतने का जूनून भी ।

Old Post Image

वेटलिफ्टिंग में दक्षिण एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता कविता देवी को 'मे यंग क्लासिक टूर्नामेंट' के लिए भी चुना जा चुका है कविता एक ऐसी खिलाड़ी है जो रेसलिंग के रिंग में सलवार सूट पहनकर फाइट करने के लिए भी उतर चुकी है। वह रिंग में इतनी फुर्तीली हैं कि वह शेरनी की तरह विरोधी खिलाड़ियों पर टूट पड़ती है। कविता लगातार चार बार सीनियर नेशनल चैंपियन, नेशनल गेम्स में चैंपियन, साउथ एशियन गेम्स में चैंपियन रह चुकी है। कविता हरियाणा के जींद स्थित मालवी गांव की रहने वाली है।

प्यारभरें मौसम की शुरुआत मे रोमाटिंक हुए विराट-अनुष्का, ये खूबसूरत तस्वीरे आई सामने

Old Post Image

कविता का पूरा नाम कविता दलाल है इस खिलाड़ी का जीवन बेहद सघर्ष मे गुजरा है । कविता की आर्थिक हालत बिल्कुल भी अच्छी नही थी घर का गुजारा भी कविता दूघ बेचकर करती थी पांच भाई-बहनों में कविता सबसे छोटी है।सेकेंडरी स्कूल से कक्षा 12 तक पढ़ी हैं। इस महिला खिलाड़ी ने साल 2004 मे लखनऊ मे रेस्लिंग की पढ़ाई शुरु कर दी और साल 2005 मे इस खिलाड़ी ने अपनी बीए की पढ़ाई पूरी कर 2008 में बतौर कांस्टेबल एसएसबी में नौकरी ज्वाइन कर ली । कविता के पति गौरव भी एसएसबी में कांस्टेबल हैं और वॉलीबॉल के खिलाड़ी हैं।

Old Post Image

डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई में विदेशी महिला पहलवानों के साथ कविता लड़ते हुए दिखी है। कविता डब्ल्यूडब्ल्यूई की पहली भारतीय महिला रेसलर है जो रिंग मे उतरी इस महिला के हुनर का जवाब नही है जब वह खेल में अपनी पहलवानी से शानदार प्रदर्शन करती है।

रोमांस के मामले मे भी अव्वल रहते है ये क्रिकेटर, ये रहा सबूत

loading...

You may also like

IPL 2019: ‘किंग्स इलेवन पंजाब  टीम की तरफ से आईपीएल सीजन 12 में खेलने वाले इस खिलाड़ी ये लुक बना देगा दीवाना
क्रिकेट की हिस्ट्री में ये है वो पाकिस्तानी बल्लेबाज जो हुुआ था बेवकूफी से रन आउट!