खेल डेस्क:- इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नसीर हुसैन ने दूसरे टेस्ट में भारत की हार की आलोचना करते हुए कहा कि अब यह 'पुरुषों और बच्चों' के बीच की लड़ाई की तरह है।भारत ने पारी में चौथे टेस्ट में एक पारी और 15 9 रनों से हार का सामना किया। पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने 31 रनों से भारत को हराया। हुसैन ने बताया, "इंग्लैंड इन स्थितियों में दुनिया की सबसे अच्छी टीम है लेकिन इस बार नजर पूरी तरह से भारत पर होंगी, क्योकि उनकी कार पूरी तरह से ट्रैक से बाहर होगी।

उन्होंने कहा, 'भारत दुनिया की नंबर वन टीम रहीं होगी, लेकिन इस सीरिज में उनकी तुलना बच्चेा से करना ही सहीं होगा। धीरें धीरें भारत का ग्राफ गलत दिशा में जा रहा है।




पिछली तीन पारियों में भारतीय टीम को 162, 107 और 130 रनों पर आउट किया गया था। उन्होंने कहा, 'उन्हें एक मजबूत आत्म-सम्मान करना है। ड्रेसिंग रूम में कुछ अच्छे क्रिकेटर हैं जिन्हें भारत को संकट से बाहर निकलने की जरूरत है।


हुसैन ने कहा, "वह एडबस्टन टेस्ट में थोड़ी देर के लिए दौड़ में थे, लेकिन कोहली की गंभीर चोट एक चिंता का विषय बनी हुई थी। अश्विन की उंगली में चोट भी लगी हुई है। भारत के शेष बल्लेबाज इसमें असफल रहे हैं और उनके बीच कोई टेस्ट मैच नहीं है।


You may also like

सिर्फ टीम इंडिया ही नहीं बल्कि पूरे देश को विराट कोहली पर विश्वास:-वीरेंद्र सहवाग 
53 साल में पुरुष सिंगल्स का खिताब जीतने  पहले भारतीय खिलाडी ने भारत के लिए जीता गोल्ड