एंटरटेनमेंट डेस्क:- रविंद्र जडेजा ने भारत की वनडे टीम से बाहर होने वाले दिनों के बारें में कहते हुए और चार विकेट लेने के बाद ये कहा कि " मुझे अपने आपको साबित करने की जरुरत नहीं है। "

बाएं हाथ के स्पिनर, जो एक अच्छे बल्लेबाज भी हैं, उन्होनें 480 दिनों के बाद 4/29 के प्रभावशाली आंकड़ों के साथ फिर से वापसी की है। भारत को सात विकेट से जीताकर उन्हें मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया।



एशिया कप 2018 में पाकिस्तान पर बड़ी जीत के बाद हार्दिक पांड्या को एशियाई कप 2018 से बाहर कर दिया गया था, क्योकि उन्हें इस दौरान पीठ की चोट का सामना करना पड़ा।




जडेजा ने मैच के बाद के रिर्पोटर से कहा कि, "मुझे हमेशा मेरी ये वापसी याद रहेगी। मैं लगभग 480 दिनों के अंतराल के बाद टीम में वापस लौट आया हूं। ये एक काफी लंबा अंतराल है। "


उन्होंने कहा, "मुझे किसी को भी कुछ साबित करने की ज़रूरत नहीं है कि मेरी क्षमता क्या है, मुझे इसे तेज करने की जरूरत है या नहीं। मुझे किसी को भी इसे दिखाने की ज़रूरत नहीं है कि मैं क्या कर सकता हूं। मुझे खुद को चैलेंज देने की ज़रूरत है। "

"विश्व कप अभी भी काफी दूर है, हम इससे पहले बहुत सारे मैच खेलेगें और मैं उस पर अभी कोई कमेंट नहीं कर सकता हूं। मेरा मानना ये है कि जब भी मुझे मौका मिले तो मै इसी तरह का प्रदर्शन करु।


You may also like

फ्रेंडशिप डे के दिन पत्नी के साथ इस क्रिकेटर ने ली इस तरह सेल्फी!
FIFA World Cup: जीत की खूशी में डूबा फ्रांस, होटल से लेकर बीच पर इस तरह मना रहे जश्न