Filmy gupsup: दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आप लोगों का हमारे चैनल पर स्पोर्ट की न्यूज़ को पढ़ने के लिए आप हमारे चैनल को फॉलो करें. दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में आप लोगों को बताने वाले हैं. कि आप में से बहुत से लोगों ने महेंद्र सिंह धोनी की दरियादिली की बहुत सी कहानियां सुनी होगी. जब कोई भी गरीब या लाचार माही के पास जाता है. तो धोनी उसे कभी भी खाली हाथ नहीं जाने देते हैं. दोस्तों हम आपको बता दें कि हाल ही में हुए. पुलवामा हमले में शहीद हुए फौजी के लिए धोनी और BCCI से मिलकर शहीद जवान के घर वालों को 20 लाख रुपए की मदद की थी.

जो आदमी दूसरे के लिए इतना कुछ कर सकता है. तो जरा सोचिए अपने पुराने दोस्त के लिए क्या कुछ नहीं कर सकता है. मित्रों हम आपको बता दें कि कुछ ही महीने पहले जब भारत और वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम की सीरीज चल रही थी. और मुकाबला खत्म होते ही सभी क्रिकेट खिलाड़ी स्टेडियम से बाहर निकल रहे थे. तभी महेंद्र सिंह धोनी की नजर स्टेडियम के बाहर चाय स्टाल पर गई जहां महेंद्र सिंह धोनी ने देखा कि उनका पुराना दोस्त स्टाल पर चाय बेच रहा है.

स्टाल पर चाय बेच रहा यह व्यक्ति महेंद्र सिंह धोनी का पुराना मित्र है. मित्रों हम आपको बता दें कि जब महेंद्र सिंह धोनी TTE का काम कर रहे थे. तब थॉमस (चाय बेचने वाले आदमी का नाम) उसी रेलवे स्टेशन पर चाय की दुकान चलाता था. तब माही उसकी दुकान पर दिनभर में कई बार चाय पीने जाते थे.

दोस्तों जब माही ने अपने पुराने मित्र को पहचाना तो वह उसके पास गए और उसे गले लगा लिया, फिर अपने सारे पुराने दोस्तों के साथ थॉमस को डिनर पर बुलाया महेंद्र सिंह धोनी ने थॉमस की आर्थिक मदद की थी. जिसकी वजह से आज थॉमस एक अच्छा रेस्टोरेंट चला रहे हैं.

दोस्तो अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें, धन्यवाद

loading...

  • TAGS
loading...

You may also like


  यूपी के योद्धाआं ने जयपुर पिंक पैंथर्स को हराया

  कोहली ने रचा इतिहास, तोड़ डाला इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज का कभी न टूटने वाला रिकॉर्ड, जानिए