इंटरनेट डेस्क: मानसून के मौसम में वायरल इंफेक्शन का खतरा ज्याद होता है जिसके कारण कोई न कोई हेल्थ प्रॉब्लम नजर आ ही जाती है। टाइफाइड होने का खतरा भी इस मौसम में ज्यादा बढऩे लगता है। मौसम का बदलाव में इन्फेक्शन होने के कारण टाइफाइड की बीमारी हो सकती है,यह बीमारी टाइफाइड साल्मोनेला बैक्टीरिया के कारण होती है। इस बीमारी होने पर तेज बुखार हो जाता है, इसका बैक्टीरियाए गंदे पानी और संक्रमित भोजन से फैलने लगता है। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में बताएंगें जिससे टाइफाइड की बीमारी से बचाव कर सकते हैं।

Old Post Image


जो व्यक्ति टाइफाइड बुखार से ग्रस्ति है उन्हे हमेशा उबले हुए पानी का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करना फायदेमंद होता है इससे टाइफाइड के बैक्टेरिया पसीने और यूरिन के माध्यम से बाहर निकल जाता है।

Old Post Image


इस बीमारी से बचने के लिए रोजाना लहसुन का सेवन करना भी फायदेमंद होता है। ऐसे में इन मरीजों को लहसुन की एक कली को तिल के तेल में पकाकर सेंधा नमक डालकर सेवन करना चाहिए जिससे टाइफाइड की समस्या ठीक हो जाती है।

Old Post Image


अदरक मौसमी वायरल इंफेक्शन को जल्द दृर करता है इसके लिए आप अदरक का काढ़ा भी तैयार कर सकते है जिसके पीने से भी टाइफाइड की बीमारी से आराम मिलता है। अदरक का काढ़ा बनाकर बीमार व्यक्ति को पिलाने से ये समस्या दूर होती है। ऐसे में आप टाइफाइड के मरीज़ को सूरजमुखी या तुलसी के पत्तों का रस भी पिला सकते है, जो बेहद फायदेमंद होता है।

You may also like

गर्मी के मौसम में अगर आप भी करते है इस चीज का सेवन, तो हो सकती है हड्डिया कमजोर
आंखों की रोशनी को तेज करता है संतरा, ऐसे करें इस्तेमाल