बंगाल वॉरियर्स की टीम प्रो कबड्डी लीग में अंक तालिका में पहले स्थान पर पहुंच गई है. ग्रेटर नोएडा के शहीद विजय सिंह पथिक खेल परिसर कोर्ट पर खेले गए प्रो कबड्डी लीग के मैच में बंगाल वॉरियर्स ने तमिल थलाइवाज़ को 33-29 से शिकस्त दी, बंगाल की इस जीत में अहम योगदान दिया मोहम्मद नबी बख़्श ने जिन्हें सात रेड अंक मिले जबकि डिफ़ेंस में रिंकू नवरवाल ने हाई फ़ाइव के साथ पांच टैकल अंक हासिल किया. तमिल की ओर से इस सीज़न अपना आख़िरी मैच खेल रहे राहुल चौधरी शुरुआत में तो रंग में दिखे लेकिन उन्होंने सात रेड अंक के साथ मैच और सीज़न ख़त्म किया. राहुल चौधरी ने करियर में 950 रेड अंक का आंकड़े को भी पार कर किया.

पहले हाफ़ में तमिल थलाइवाज़ और बंगाल वॉरियर्स दोनों ही टीमें बेहद सूझ बूझ और संभल संभल कर खेलती हुई नज़र आ रहीं थीं. शुरुआती बढ़त तमिल ने हासिल की थी. बंगाल ने फिर हमला बोला और तमिल थलाइवाज की बढ़त को काट कर आगे निकल गई. लेकिन पहला हाफ़ ख़त्म होने से ठीक पहले तमिल थलाइवाज़ ने वापसी की और स्कोर बराबर किया. हाफ़ टाइम तक स्कोर 13-13 से बराबर था.

दूसरे हाफ़ में बंगाल ने शानदार शुरुआत करते हुए तमिल थलाइवाज़ को मैच में पहली बार ऑलआउट किया और छह अंकों की बढ़त बना ली. इसके बाद से लगातार बंगाल ने अपनी पकड़ मज़बूत बना ली. सुकेश हेगड़े और मोहम्मद नबी बख़्श जहां रेडिंग की ज़िम्मेदारी संभाल रहे थे तो डिफ़ेंस का काम अंजाम दे रहे थे रिंकू नरवाल. तमिल ने जिस अंदाज़ में पहला हाफ़ खेला था, दूसरे हाफ़ में ये टीम लड़खड़ा गई. राहुल चौधरी और युवा खिलाड़ी वी अजीत कुमार भी टीम के लिए अहम मौक़ों पर अंक लाने से चूक गए और बंगाल ने मैच जीत कर बड़ी छलांग लगाई.

प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में बंगाल वॉरियर्स की तमिल थलाइवाज़ पर आठ मैचों में सातवीं जीत रही. चौथे सीजन से बंगाल की यह लगातार छठी जीत है. इस जीत के साथ ही बंगाल वॉरियर्स एक बार फिर अंक तालिका में नंबर एक पर पहुंच गई. उसके 22 मैचों में अब 83 अंक हो गए हैं, जबकि इस हार के साथ ही तमिल थलाइवाज़ ने सीजन का अंत 22 मैचों में 36 अंकों के साथ आख़िरी पायदान पर ख़त्म किया.

loading...

  • TAGS
loading...

You may also like