मस्जिद मुसलमानों का उपासना (इबादत) या प्रार्थना स्थल है। इसे नमाज़ के लिए प्रयोग किया जाता है मुसलमानों के प्रारंभिक काल में मस्जिदे नबवी को विदेश से आने वाले ओफ़ोद से मुलाकात और चर्चा के लिए भी इस्तेमाल किया गया था। मस्जिद से मुसलमानों की पहली विश्वविद्यालयों (विश्वविद्यालयों) ने भी जन्म लिया है। इसके अलावा इस्लामी वास्तुकला भी मुख्य रूप से मस्जिदों से विकास हुई है।

Third party image reference

वर्तमान समय में दुनियाभर में बहुत सारे ऐसे देश हैं जहां पर इस्लाम धर्म को माना जाता है जिसके कारण उन देशों में इबादत करने के लिए मस्जिदे बनी हुई है लेकिन दोस्तों की आप लोगों को मालूम है दुनिया में सबसे ज्यादा मस्जिद किस देश में मौजूद है। चलिए जानते हैं दुनिया के उस देश के बारे में जहां पर मस्जिदों की संख्या दुनिया के किसी भी देश की तुलना में सर्वाधिक है। आपकी जानकारी के लिए बता दें इंडोनेशिया दुनिया का पहला ऐसा देश है जहां पर दुनिया के किसी भी देश की तुलना में सर्वाधिक मस्जिदें हैं। इस देश में मस्जिदों की कुल संख्या लगभग आठ लाख के आसपास है।

शब्द मस्जिद का शाब्दिक अर्थ है सज्दा या 'साष्टांग प्रणाम' करने की जगह। उर्दू सहित मुसलमानों की अक्सर भाषाओं में यही शब्द इस्तेमाल होता है। यह अरबी जाति शब्द है। अंग्रेजी और यूरोपीय भाषाओं में इसके लिए 'मोस्क' (Mosque) शब्द का प्रयोग किया जाता है हालांकि कई मुसलमान अब अंग्रेजी और अन्य यूरोपीय भाषाओं में भी मस्जिद (Masjid) प्रयोग करते हैं क्योंकि उनके विचार में यह स्पेनिश शब्द मोसका (Moska) बसमझनी मच्छर से निकला है।

Third party image reference

लेकिन कुछ लोगों के विचार में यह सही नहीं है। अहले इस्लाम के पास, मस्जिद, वह इमारत है जहां नमाज़ अदा की जाती है। अगर मस्जिद में नमाज़ शुक्रवार को भी होती हो तो उसे जामा मस्जिद कहते हैं। मस्जिद शब्द कुरान में भी आया है जैसे मस्जिद हरम के ज़िक्र में बेशुमार आयात में यह शब्द इस्तेमाल हुआ है।


You may also like

  कोरोना वायरस के कारण शाओमी ने टाल दिया अपने बेहतरीन स्मार्टफोन की लॉन्चिंग
  एयरटेल ने मचाया एक बार फिर हाहाकार, ₹379 में 84 दिनों तक सबकुछ अनलिमिटेड