इंटरनेट डेस्क : गर्मियों में पसीना आना एक आम बात है लेकिन शरीर से आते पसीने की वजह से हमे अक्सर शर्मिंदगी भी झेलनी पड़ सकती है जिसे दूर करने के लिए हम महंगे ब्रांड वाले डिओडरेंट का इस्तेमाल करते है लड़के और लड़कियां दोनों ही गर्मी के मौसम में डिओडरेंट का इस्तेमाल किया करते है लेकिन आप इस समस्या से निपटने के लिए डिओडरेंट का तरीका आजमा तो लेते है लेकिन कई बार डिओडरेंट आपकी स्किन के लिए नुकसानदायक हो सकता है ।

आइए जानें की डिओडरेंट की मदद से आपको किस तरह की परेशानियां झेलनी पड़ सकती है...

डिओडरेंट में एल्युमिनियम जैसे कंपाउंड होते है जो कुछ लोगों की त्वचा पर इरिटेशन और एलर्जी जैसी परेशानी खड़ी कर सकते है डिओडरेंट में काफी मात्रा में अल्कोहल होता है, जो संवेदनशील त्वचा पर बुरा असर डाल सकता है।

एल्युमिनियम फॉयल होता है सेहत के लिए खतरनाक जो शरीर में पैदा कर सकता है गंभीर बीमारियां

Old Post Image

पैराबींस एक तरह का कृत्रिम प्रिजर्वेटिव है, जिसका इस्तेमाल कॉस्मेटिक्स में काफी मात्रा में होता है। इस केमिकल से स्तन कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। डिओडरेंट में इस्तेमाल आप अल्कोहल-फ्री डिओडरेंट चुनें।

जब भी आप डिओडरेंट का इस्तेमाल करते है तो जरुरी नही है की डिओडरेंट की तेज खुशबू हर किसी के लिए ठीक हो ऐसी तेज खुशबु त्वचा पर कॉस्मेटिक एलर्जी की वजह बनती है और आपको स्किन एलर्जी भी हो सकती है । खुशबू वाले डिओडरेंट को त्वचा पर छिड़कने के बजाय कपड़ों पर छिड़कें।

Old Post Image

अगर आपको अत्यधिक मात्रा में पसीना नहीं आता है लेकिन आप पसीने दुर्गध से परेशान है तो आप सही डिओडरेंट चुनाव करें ऐसा करना आपकी स्किन के लिए ठीक होगा।

जो लोग डिओडरेंट को सीधे त्वचा पर लगाना पसंद करते हैं वे अक्सर स्टिक लेना पसंद करते हैं। वहीं कुछ लोग डिओडरेंट को शर्ट पर स्प्रे करना पसंद करते हैं, तो उन्हें स्प्रे बेहतर लगता है। दोनों का ही इस्तेमाल आसान होता है लेकिन अक्सर स्टिक वाले डिओडरेंट स्किन पर धब्बे छोड़ देते है खासकर ऐसी ड्रेस पर जब आपकी ड्रेस का रंग गाढ़ा होता है ।

उंगलियों के बीच गैप बताते है व्यक्ति का स्वभाव

loading...

You may also like

गर्मियों के दिनों में पिएं एनर्जी से भरपूर इन दो चीजों का ड्रिंक सेहत बनी रहेगी  दुरुस्त
घर में आर्थिक तंगी को दूर करते है ये पालतू जानवर