दोस्तों क्या अपने कभी हवाई जहाज में सफर किया है अगर अपने भी किया है तो अपने देखा होगा की जायदातर हवाई जहाज की शीटों का जो रंग होता है वो नीला होता है पर क्या आप ये जानते है कि जायदातर हवाई जहाज की शीटों का रंग नीला ही क्यों होता है।

Third party image reference

कुछ लोग तो ये सोचते हैं कि ये रंग हमें आसमान की याद दिलाता है इसलिए नीला रंग चुना जाता है तो आपको बता दे की इसके पीछे कुछ और ही कारन है। आइये जान लेते है। बता दे की कई सालों पहले एयरलाइन में नीली सीट्स का इस्तेमाल शुरू हुआ था और तब से अब तो सभी एयरलाइंस इसी रंग की शीटों का इस्तेमाल करती आ रही है।

Third party image reference

ब्रिटिश वैज्ञानिकों के मुताबिक, ज्यादातर लोग नीले रंग को Reliability और safty के साथ जोड़ते है,यह उन लोगों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है जो कि एयरोफोबिया से ग्रस्त नहीं है। शोध के मुताबिक, 90 प्रतिशत लोग ब्रांड कलर्स के आधार पर कंपनी की तरफ रुख करते हैं।

नीला रंग यात्रियों में सकारात्मक सोच का संचार करता है। अब अमूमन हर एयरलाइन्स में नीली रंग की ही सीटें देखी जाती हैं .नीली सीटें लगाने का कारण यह भी है कि ऐसी सीटें जल्दी गंदी नहीं होती हैं। इसमें धूल, दाग-धब्बे कम नजर आते हैं, इस वजह इन्हें लंबे वक्त के लिए इस्तेमाल में लाया जा सकता है।

जब1970 और 1980 में कुछ एयरलाइंस ने सीट पर लाल फैब्रिक यूज करने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें बाद में इसे नीला करना पड़ा। इसका कारण ये बताया गया था कि लाल रंग की सीट्स के कारण यात्रियों के बीच आक्रमकता का स्तर बढ़ने लगा था उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आएगी अगर आपको इस आर्टिकल से जरा से भी मदद मिलती है तो हमे बहुत खुसी होगी।


You may also like


  दूरदर्शन के 7 ऐसे पॉपुलर सीरियल जिन्हें देखे बिना दिन नहीं कटता था, आपका फेवरेट कौन सा था?

  इस हफ्ते की पहली फिल्म सुपरफ्लॉप, दूसरी और तीसरी हिट, चौथी ने रच दिया इतिहास