भारत के उन करोड़ों पेरेंट्स के लिए खुशखबरी है जो अपने बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगवाने का इंतजार कर रहे थे।

अब ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के तहत काम करने वाली सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने भारत बायोटेक की को वैक्सीन को 2 से 18 साल तक के बच्चों पर इस्तेमाल करने की सिफारिश कर दी है अब बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने का आखरी फैसला ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया को करना है।

इसके लिए डीजीसीआई ने सिफारिश करते हुए 4 शर्ते लगाई है वैक्सीन के ट्रायल की प्रक्रिया लगातार जारी रखें वेक्सीन की जानकारी नहीं है बी जोड़ा जाएगी इसका बच्चों पर क्या प्रभाव पड़ेगा बच्चों को वैक्सीन लगाए जाने के हर 15 दिन में को वैक्सीन की सुरक्षा और साइड इफेक्ट का डाटा इकट्ठा किया जाए।

इसके अलावा वैक्सीन निर्माता कंपनी रिस्क मैनेजमेंट प्लान के बारे में बताएं कि अगर इसके साइड इफेक्ट है तो ऐसी स्थिति में क्या किया जाए इसकी सारी जानकारी कंपनी को देनी होगी।


You may also like

Health Tips :प्रेग्नेंसी में सीढ़िया चढ़ना चाहिए या नहीं , यहां जाने क्या कहती है स्टडी
Health Tips :कड़वी लौकी का भूलकर भी ना करे सेवन ,हो सकते है ऑर्गन फैल