रविवार को लॉकडाउन-चार की अवधि समाप्त होने वाली है और अब सरकार लॉकडाउन 5 की तैयारियां शुरू कर चुकी है। इस सिलसिले में कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कांफ्रेंस की। इस दौरान ये साफ हो गया कि कोरोना को लेकर अब 13 शहरों को हॉटस्पॉट के रूप में इन पर सबसे अधिक ध्यान दिया जाएगा और देश के बाकी हिस्सों में पहले से अधिक छूट दी जा सकती है।

कोरोना के 70 फीसद से अधिक मामले 13 शहरों तक सीमित हैं। ये शहर मुंबई, चेन्नई, दिल्ली, अहमदाबाद, ठाणे, पुणे, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर, जयपुर, जोधपुर, चेंगलपट्टू और तेरूवल्लुर हैं।

रेड जोन इलाके को लेकर पहले ही गाइडलाइन जारी

कैबिनेट सचिव ने कहा कि इन शहरों में बन रहे कोरोना के कलस्टर को रोकने के लिए पहले ही गाइडलाइंस जारी की जा चुकी हैं। इसके अनुसार रेड जोन इलाके को पूरी तरह सील करने के साथ ही घर-घर सर्वे और अधिक-से-अधिक लोगों की जांच सुनिश्चित करें।

पूरी सतर्कता बरतनी होगी

कैबिनेट सचिव ने इन 13 शहरों के अलावा अन्य इलाकों में भी पूरी सतर्कता बरतने का निर्देश दिया। खासकर उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों में जहां बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर लौट रहे हैं इसलिए इन जगह पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

लॉकडाउन 5 पर इस दिन होगा फैसला

लॉकडाउन-पांच को लेकर सीधे तौर पर कोई चर्चा नहीं हुई। इस पर गृहमंत्रालय द्वारा शनिवार तक फैसला लिए जाने की उम्मीद है।लेकिन बैठक के दौरान एक बात साफ हो चुकी है कि इस बार केवल 13 शहरों पर सबसे अधिक ध्यान दिया जाएगा। कुछ सेवाएं पूरे देश में प्रतिबंधित रह सकती हैं, लेकिन अन्य सेवाओं को शारीरिक दूरी, मास्क और अन्य शर्तो के साथ छूट दी सकती है।

loading...

You may also like

खाने में ये चीज सबसे ज्यादा पसंद करते थे सुशांत सिंह राजपूत, आप भी जान लें
पुलिस के हाथ लगीं सुशांत की पर्सनल 5 डायरीज, अब इन लोगों से होगी पूछताछ