कोरोना वायरस की वजह से भारत में 4 लोग अपनी जान गवां चुके हैं. कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है. इस वजह से 22 मार्च को देशभर में जनता कर्फ्यू की अपील की गई है. भारत में संक्रमित लोगों की संख्या 200 के पार पहुंच चुकी है. हालांकि कुछ लोग ठीक भी हो गए हैं.

भारत में अभी यह वायरस दूसरे चरण में है. लेकिन जल्द ही तीसरे चरण में पहुंच जाएगा, ऐसी संभावना जताई जा रही है. हालांकि भारत सरकार कोरोना वायरस से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है. कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सभी भीड़भाड़ वाले इलाकों को बंद कर दिया गया है.

केंद्र सरकार ने सभी धर्म स्थलों, सिनेमाघरों, मॉल्स, ऑफिस जैसी जगहों को बंद कर दिया है. सभी लोगों को घर से बाहर ना निकलने की अपील की गई है. लोगों से भीड़भाड़ वाले इलाकों में ना जाने के लिए कहा गया है. लेकिन इसी बीच बड़ी खबर आई है जिससे आपको थोड़ी राहत मिलेगी.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने दावा किया है कि भारत में कोरोना वायरस बड़े पैमाने पर नहीं फैल रहा है. एक शोध के मुताबिक, 52 परीक्षण प्रयोगशालाओं में 1000 लोगों के नमूने लिए गए. इन सभी भारतीयों के नमूने नकारात्मक पाए गए हैं. अब तक केवल 500 लोगों की लैब रिपोर्ट प्राप्त हुई है और विस्तृत जानकारी जल्द ही जारी की जाएगी.

loading...

You may also like

जानिए पैर छूने पर शगुन में क्या देती है पीएम मोदी की मां
आखिर किन्नर एक रात के लिए क्यों करते हैं शादी और किस से; जानिए यहाँ