कोरोना के कहर ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया अब अमेरिका' हवाना सिंड्रोम' से खौफ में है पिछले दिनों अमेरिकी खुफिया एजेंसी के एक अधिकारी भी बीमार पड़ गया और रिपोर्ट के अनुसार उसके लक्षण हवाना सिंड्रोम से मिलते जुलते हैं।

यह पहली बार 2016 में क्यूबा में पाया गया था अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने मामले की जांच तेज कर दी है और जल्दी खुलासा करेंगे केंद्रीय खुफिया एजेंसी के उप निदेशक डेविड कोहेन ने पिछले सप्ताह कहा था कि इसका कारण और स्रोत रहस्य पूर्ण है उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हम खुलासे के करीब आ गए हैं लेकिन हम इतने करीब नहीं पहुंचे हैं कि अभी इस पर कोई निर्णय लिया जा सके।

रिपोर्ट के अनुसार हवाना सिंड्रोम के मामले धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं क्यूबा के बाद चीन ,जर्मन ,ऑस्ट्रेलिया ,ताइवान यहां तक कि वाशिंगटन डीसी में भी इसके मरीज मिले हैं भारत में हवाना सिंड्रोम के लक्षण नजर आने का यह पहला मामला है।

हवाना सिंड्रोम का पहला केस क्यूबा की राजधानी हवाना से सामने आया था इसी वजह से इसका नाम हवाना सिंड्रोम रखा गया है इस बीमारी के शिकार लोगों में थकान ,सिरदर्द और याददाश्त खो जाने जैसी समस्याएं होती है रिपोर्ट्स के सामने आई है कि क्यूबा,चीन ,रूस और कुछ अन्य देशों में तैनात अमेरिकी राजनयिकों और इंटेलिजेंस अधिकारियों का इस बीमारी के चलते मस्तिष्क भी डैमेज हो चुका है।


You may also like

Health Tips : सूखे नारियल केवल स्वाद ही नहीं महिलाओ की इन बीमारियों में है रामबाण औषधि
Human Story: गांव के निवासी ने अपने सपनों को साकार करने के लिए कड़ी मेहनत की बना IPS