नमस्कार मित्रों आज आपका फिर से एक बार स्वागत है एक नए लेख में, कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए मोदी सरकार ने 21 दिन का लॉकडाउन का फैसला लिया था। ताकि देश को खतरनाक कोरोना वायरस से बचाया जा सके। मिली जानकारी के अनुसार लॉकडाउन के बाद मोदी सरकार कुछ बड़ा कदम उठा सकती हैं। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से।

1- निःशुल्क जांच। निशुल्क जांच कराने के लिए सरकार तत्काल कार्रवाई कर सकती है। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि कोरोना वायरस के संक्रमित होने के बाद ही भारत वायरस को नियंत्रित कर सकता है। ऐसे मामलों में, भारत सरकार संक्रमित लोगों की जांच के लिए कोरोना टेस्ट को मुफ्त कर सकती है। वर्तमान में, कोरोना परीक्षण की लागत 3500 से 5000 रुपये है।

2 - लॉक डाउन टाइम बढ़ सकता है। लॉक-डाउन के बाद, कोरोना वायरस के सकारात्मक मामले लगातार रिपोर्ट किए जा रहे हैं। भारत में कोरोना के कारण 35 मौतें और 1200 से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। ऐसे मामले में, सरकार लॉकडाउन अवधि बढ़ा सकती है।

3. मुफ्त वस्तुओं की सप्लाई। वर्तमान में, देश में कुछ लोगों को मुफ्त भोजन प्रदान किया गया है। लॉकडाउन के बाद, मोदी सरकार सभी आवश्यक वस्तुओं को मुफ्त में प्रदान करने के लिए कार्रवाई कर सकती है।

4- संक्रमित व्यक्तियों का पता लगाना। डब्ल्यूएचओ पहले ही चेतावनी दे चुका है कि कोरोना पिटाई नहीं रोक सकता। भारत को कोरोना प्रभावित लोगों को ढूंढना चाहिए और उन्हें लोगों से अलग करना चाहिए। ऐसे मामलों में, सरकार संक्रमित लोगों को खोजने के लिए एक अभियान शुरू कर सकती है।

दोस्तों अगर आप लोगों को हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी, तो इसे अपने चाहने वालों के साथ शेयर करें।

Read Source- punjabkesari.in

loading...

You may also like

लोकडाउन के बिच यूपी के इस नमी शहर में चल रहा है सेक्स रैकेट, जब पुलिस पहोची तो नजारा देख के हैरान रह गइ
Apple ने लॉन्च किया नया 13 इंच का मैकबुक प्रो, जानिए कीमत