सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से नेपोटिज्म को बढ़ावा देने का आरोप झेल रहे करन जौहर बुरी तरह आहत हैं। वे बात करने की स्थिति में नहीं हैं। कोई फोन करता है तो वे टूट जाते हैं और रोने लगते हैं। पूछते हैं कि क्या वाकई वे यह सब डिजर्व करते हैं? रिपोर्ट के मुताबिक, यह दावा करन के एक करीबी दोस्त ने किया है।

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से नेपोटिज्म को बढ़ावा देने का आरोप झेल रहे करन जौहर बुरी तरह आहत हैं। वे बात करने की स्थिति में नहीं हैं। कोई फोन करता है तो वे टूट जाते हैं और रोने लगते हैं। पूछते हैं कि क्या वाकई वे यह सब डिजर्व करते हैं? रिपोर्ट के मुताबिक, यह दावा करन के एक करीबी दोस्त ने किया है।

आपको बता दे सुशांत के निधन के बाद से करन जौहर 25 दिन से ट्विटर और इंस्टाग्राम से दूर हैं। उन्होंने 14 जून को आखिरी पोस्ट सुशांत सिंह राजपूत को श्रद्धांजलि देने के लिए ही की थी। करन ने अफसोस जताया था और इस बात के लिए खुद को दोषी माना था कि वे सालभर से सुशांत के संपर्क में नहीं थे।

loading...

You may also like

'नागिन 4' के सेट पर इमोशनल हुई निया शर्मा, वीडियो हुआ वायरल
इन सदाबहार गीतों को सुनिए रक्षाबंधन पर