इंटरनेट डेस्क: शारदीय नवरात्र 10 अक्टूबर 2018 से शुरू हो चुके हैं, जिसे लेकर देशभर में लोग विशेष पूर्जा अर्चना कर मां से घर की खुशहाली की विनती कर रहे है। नवरात्र के पूरे नौ दिन देवी दुर्गा के नौ विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है। मान्यता यह भी है कि इस दौरान मां अपने भक्तों के घर विराजमान होती हैं और उन पर अपनी कृपा बरसाती हैं, जिससे भक्तो के कष्ट दूर हो सके। भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करने के लिए मां उनके घर में प्रवेश भी करती है। वास्तु शास्त्र और ज्योतिष के अनुसार अगर कुछ उपाय किए जाएं तो माता रानी बहुत ज्यादा प्र्रसन्न रहती है। जिससे मनोकामना जल्दी पूरी कर देती हैं्र। आइए जानते हैं..

Old Post Image

खुशहाली के लिए घर का मुख्य दरवाजा बेेहद अहमियत रखता है। ज्योतिष और वास्तु की बात करें तो अनुसार नवरात्र के समय घर के मेन गेट पर स्वास्तिक का चिन्ह यानि निशान बनाना चाहिए। इससे लाभ प्राप्त होता है। क्योंकि ऐसा करने से वास्तुदोष खत्म हो जाता है इसी के साथ भगवान गणेश जी का चित्र भी लगाए। हिदू धर्म में भगवान गणेश को प्रथम पूज्य माना जाता है। यही कारण है कि नवरात्र में इनकी पूजा करना और इनका चित्र लगाना शुभ होता है। यह भी मान्यता है कि इससे घर में आने वाली हर तरह की नकारात्मक चीजें दूर होती हैं, चारों और सकरात्मकता बनी रहती है।

Old Post Image

घर के प्रवेश द्वार पर आम और अशोक के पत्ते की माला लगाए। इससे नवरात्रि में घर से नकारात्मकता दूर होती है ऐसे मुख्य दरवाज़े पर आम और आशोक पेड़ के पत्तों की माला बनाकर टांग दें। जिससे कई फायदें होते है।

Old Post Image

आपने कई बार देखा होगा की कई घरों के आंगन या प्रवेश द्वार पर मां लक्ष्मी के पैर निशान बने होते है, जो शुभ माना गया है। इन निशानों को इसलिए बनाया जाता है क्योंकि इनसे घर में सुख और शांति बनी रहती है, ऐसा करने से लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है आप भी कृपा पाने के लिए नवरात्रि में ये निशान ज़रूर बनवाए।

You may also like

क्या आप भी करते है शाम के समय पैसों को लेकर ये काम, तो जरूर पढ़े ये खबर
अगर रास्ते में दिख गया ये दुश्य तो समझ जाए जल्द देने वाला है प्यार दस्तक, होने वाली है शादी