इंटरनेट डेस्क : गणेश चतुर्थी का पर्व हालहि में जोरों शोरों से मनाया गया हर कोई भगवान गणेश की प्रतिमा गणेश चतुर्थी के दिन घर में स्थापित करता हुआ दिखा तो वही आज 12 सितंबर को अनंत चतुर्दशी का दिन है यह दिन घर-घर में स्थापित की जाने वाली गणेश प्रतिमा को विसर्जित करने का आखिरी दिन है बड़े ही धूम-धाम के साथ आज भगवान गणेश की प्रतिमा को तालाबों में विसर्जित किया जाता है और उन्हे अंतिम विदाई दी जाती है।

इस गणेश चतुर्थी पर करने जा रहें भगवान गणपति की स्थापना तो जरुर रखें इन बातों का ख्याल...

Old Post Image

भक्त धूमधाम से ढोल-ताशो के साथ गणपति बप्पा को विदा करते है तो कई भक्त अनंत चतुर्दशी के दिन व्रत रखते हैं तो कई जगह भंडारों का कार्यक्रम भी आयोजित किया जाता है हमारे हिंदू धर्म में मान्‍यता है कि अनंत चतुर्दशी के दिन विष्‍णु के अनंत रूप की पूजा करने से भक्‍तों की हर मनोकामनाएं पूरी होती है और आपके घर में खुशिया ही खुशियां आती है ।

भगवान विष्‍णु के अनंत रूप की पूजा की जाती है तो अनंत चतुर्दशी के दिन भगवान के अनंत स्‍वरूप के लिए व्रत भी रखा जाता है स्‍त्रियां दाएं हाथ और पुरुष बाएं हाथ में अनंत सूत्र का धागा बांधा करते है इस सूत्र को इस दिन बांधने से आप अपने जीवन की सभी परेशानियों से मुक्ति पा सकते है बप्पा को 10 दिन बाद बड़े ही धूमधाम से विदाई देते है। हिन्‍दू कैलेंडर के अनुसार हर साल भादो माह शुक्‍ल पक्ष की चौदस यानी कि 14वें दिन मनाई जाती है।

Old Post Image

भगवान विष्णु की पूजा उपासना का दिन अनंत चतुर्दशी है और इस दिन जो सूत्र बांधा उसका ये खास महत्व है यह सूत्र रेशम या सूत का होता है इस सूत्र में 14 गांठें लगाई जाती हैं मान्‍यता है कि भगवान ने 14 लोक बनाए जिनमें सत्‍य, तप, जन, मह, स्‍वर्ग, भुव:, भू, अतल, वितल, सुतल, तलातल, महातल, रसातल और पाताल शामिल हैं कहा जाता है कि अपने बनाए इन लोकों की रक्षा करने के लिए श्री हरि विष्‍णु ने

अलग-अलग 14 अवतार लिए भगवान विष्णु के अन्नत रुप की पूजा करने से भक्तों की हर मनोकामनाओं को जल्द से पूरा किया जा सकता है।

हमारे हिंदू धर्म में विशेष महत्व रहती है भादवा की चौथ ,जानिए इस चौथ की पौराणिक कथा

loading...

loading...

You may also like

दुनिया की सबसे खूबसूरत काली लड़की जिसकी खूबसूरती देखकर चौक जाएंगे आप
 भगवान गणेश की पूजा में इस वजह से शामिल नही की जाती तुलसी