इंटरनेट डेस्क : हमारी हिंदू संस्कृति में किसी भी शुभ काम की पूजा –पाठ के दौरान स्वास्तिक बनाने का एक विशेष महत्व है जिसे हम सही तरीकें से लाल रौली से बनाया करते है इस स्वास्तिक को पूजा मे तो बनाते है ही साथ ही घर के बाहर भी या किसी कलश के ऊपर लाल रौली से बनाया करते है ताकि हमारी हर तरह मनोकामनाओ की पूर्ति हो लेकिन एक अनोखा मंदिर ऐसा भी है जहां पर उल्टा स्वास्तिक बनाने से जीवन की हर मनोकामना की पूर्ति होती है वैसे तो स्वास्तिक को उल्टा बनाना अशुभ माना जाता है ।

Old Post Image

लेकिन इंदौर स्थित खजराना मंदिर में भगवान गणेशजी के मंदिर मे गणेश की पीठ पर उल्टा स्वास्तिक चिंह बनाते है तो आपकी हर तरह की मनोकामना की पूर्ति होती है इस जगह को लेकर मान्यता है की अगर कोई व्यक्ति अपने मन की मुराद को पूरी करने के लिए यहां उल्टा स्वास्तिक बनाता है और जब उसकी मनोकामना पूरी हो जाती है वह दोबारा यहां जरुर आता है।

हिंदू संस्कृति मे विशेष महत्व रखती है ये रस्म, शादी मे ना चूकें इस रस्म को करने से...

Old Post Image

खजराना गणेश मंदिर में बुधवार को गणेश पूजा का विशेष महत्व है यहां पर पूरें साज श्रृंगार के साथ भगवान गणेश की पूजा की जाती है अगर इस मंदिर के निर्माण की बात करें तो इस मंदिर का निर्माण 1735 में होल्कर वंश की महारानी अहिल्याबाई ने करवाया था। यहां गणेश की पूजा का एक विशेष विधान माना गया जो हर भक्त की मनोकामनाओ की पूर्ति करती है।

इस वजह से सुहागन महिलाए लगाती है माथे पर लाल रंग का सिंदूर

loading...

You may also like

 भगवान की पूजा में ऐसे बर्तन इस्तेमाल करने होते है शुभ तो ये है अशुभ
धार्मिक ग्रंथों के अनुसार बागवानी  के दौरन रखें इन बातों का ख्याल