इंटरनेट डेस्क : सप्ताह के सात दिन होते हर दिन एक विशेष देवी –देवता को समर्पित दिन माना गया है ऐसा ही कुछ सोमवार के दिन को लेकर भी है सोमवार का दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने का दिन है भगवान शिव को लेकर मान्यता है की भगवान शिव शांत, सौम्‍य और भोले स्‍वभाव के देवता हैं, वहीं सोमवार को भी सौम्‍य कहते हैं। भगवान शिव के स्वरुप की बात करें तो भगवान शिव के गले में रुद्राक्ष की माला और सांप है तो वही माथे पर चंद्रमा विराजमान है । इस दिन विशेष पूजा-पाठ को करके भगवान शिव की असीम कृपा आप पर हमेशा बनी रहती है।

भगवान शिव की पूजा करने वाले भक्त रोग, क्लेश , और आर्थिक तंगी से हमेशा दूर रहते है वही कुंवारी कन्याएं भगवान शिव की अराधना करें तो उनका विवाह जल्द से जल्द होता है और उन्हे मनचाहे वर की प्राप्ति होती है।

आइए जानें सोमवार के दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए आप किस तरह से पूजा पाठ करें...

हिन्दू धर्म में इस विशेष वजह से महत्व रखता है स्त्री का मंगलसूत्र

Old Post Image

सोमवार के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद मंदिर जाएं और पूरें विधि-विधान से भगवान शिव की पूजा करें सबसे पहले भगवान शिव के साथ माता पार्वती और नंदी को गंगाजल व दूध से स्‍नान कराएं। इसके बाद उन पर चंदन, चावल, भांग, सुपाड़ी, बिल्वपत्र और धतूरा चढ़ाएं। भोग लगाने के बाद आखिरी बाद श्रध्दापूर्वक भगवान शिव की आरती करें।

भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए आप इन विशेष बातों का भी ख्याल रखें...

Old Post Image

आप पूजा के दौरान 'ऊं नम: शिवाय' का जाप करें। शिव पूजन के दौरान बासी दूध को बिल्कुल प्रयोग में ना लाएं । इसके अलावा डिब्बा बंद अथवा पैकेट का दूध अर्पित करने से भी बचें। शिवजी की पूजा में भगवान शिव पर कभी हल्दी ना लगाएं वही अगर आपने सोमवार का उपवास किया है तो आप कभी झूठ ना बोले इन विशेष बातों का ख्याल रखकर आप भगवान शिव को प्रसन्न कर सकते है।

हिंदू धर्म में विशेष महत्व रखती है गंगा दशमी, इस दिन गंगा नदी में दान-पुण्य से मिलता है शुभ लाभ

loading...

loading...

You may also like

गणेश चतुर्थी  पर भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करने के साथ इस वजह से बोला जाता है मोरया
एक ने 70 करोड़, दूसरे ने 65 करोड़, ये है 2020 के 5 सबसे महंगे सुपरस्टार