इंटरनेट डेस्क : हमारे हिंदू धर्म में पूजा-पाठ के दौरान कई चीजें काम में ली जाती है ऐसा ही कुछ नवरात्रि में रखने वाली जौ को लेकर भी है जौ को नवारत्रि पूजा में रखा जाता है जिसे माता की घट स्थापना के समय माता की पूजा के स्थान मिट्टी के अंदर जौ डालकर उगाया जाता है लेकिन शायद आपको पता है इस जौ से उगने वाली दौब आपके जीवन में शुभ प्रभावों को देती है ।

अगर पूजा में जौ ना उगे तो इसे अशुभ संकेत माना जाता है जौ को अंकुरित होने के लिए दो से तीन दिन का समय लगता है ।

जानिए महिलाओं के सिर ढकने की इस खास परम्परा के बारें में...

Old Post Image

जौ से उगने वाली दौब का रंग भी इन बातों का बताता है नीचे से पीला और ऊपर का रंग हरा अगर आपके द्वारा उगाए जौ के रंग का है तो इसका अर्थ है कि आने वाले साल का आधा समय आपके लिए अच्छा रहेगा। नीचे से हरा और ऊपर पीला वहीं इसके विपरीत उगने वाला जौ ऊपर से आधा पीले रंग का है और नीचे का हिस्सा हरा है तो इसका मतलब है आपके साल की शुरुआत भी बेहद अच्छी रहने वाली लेकिन हो सकता है आपको बाद में कई तरह की परेशानियों का सामना भी करना पड़ा।

सफ़ेद या हरा रंग घट स्थापना के दौरान बोए गए जौ का रंग पूरी तरह से सफ़ेद या हरे रंग का होता है ऐसे रंग का होना बेहद शुभ होता है अगर जौ ऐसी रंग में उगे तो आपकी पूजा कामयाब है हर मां से की गई हर मुराद आपकी जल्द से जल्द पूरी होगी और आपका साल बेहद अच्छा रहने वाला है।

जीवन की हर समस्या से रहना चाहते है दूर ,तो रोजाना करें पीपल पेड़ की पूजा

loading...

You may also like

जानिए जीवन में कौनसे शुभ संकेत देती है हरी दौब
हिंदू धर्म में विशेष महत्व रखती है गंगा दशमी, इस दिन गंगा नदी में दान-पुण्य से मिलता है शुभ लाभ