इंटरनेट डेस्क : हमारी हिंदू संस्कृति में अक्सर पूजा-पाठ के दौरान महिलाओं को सिर ढककर पूजा करना अनिवार्य होता है जो हमारी संस्कृति की एक खास सभ्यता है सिर्फ पूजा या मंदिर में ही लोग सिर नही ढकते बल्कि गुरुद्वारा या मस्जिद में भी सिर ढका जाता है लेकिन क्या आपने जानने की कोशिश की है आखिर सदियों से महिलाए सिर की क्यो ढ़कती है

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के जरिये बताएगें कि महिलाएं अक्सर सिर को क्यो ढ़का करती है...

दरअसल हमारी संस्कृति में माना जाता है सिर ढककर पूजा करने से हम आदर और सम्मान करते है पूजा में तो हम सिर ढ़कते है ही साथ ही हमारे घर के बड़े-बुजुर्ग सास- ससुर के सामने महिलाए सिर ढकती है ।

शास्त्रों में बताया गया है इन विशेष फूलों का महत्व, जिन्हें दिन के अनुसार साथ रखने से होगी हर मनोकामना पूरी

Old Post Image

शायद आपको पता हो की महिलाओं के सिर ढकने की खास वजह सिर के मध्य में सहस्त्रारार चक्र होता है जिस पर पूजा करते वक्त निगेटिव चीजों का असर नहीं होता बस इसी कारण से महिलाएं पूजा-पाठ वह धार्मिक स्थलों वाली जगह पर सिर ढका करती है।

सुहागन के सिंदूर का गिरना होता है अपशकुन, जानें ये और भी होते है अशुभ संकेत

You may also like

राजस्थान महोत्सव: राजस्थानी माटी की सुगंध को चमकाने के लिए 3 दिवसीय कुंभलगढ़ महोत्सव का आयोजन
इस वजह से भगवान शिव की पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ है सोमवार का दिन