लाइफस्टाइल डेस्क: हर लडक़े और लडक़ी की ख्वाहिश होती है कि उन्हे प्यारा सा पार्टनर मिले जिनके साथ वे जिंदगी के खूबसूरत पल जी सके। शादी के बंधन में बंधने के बाद पति.पत्नी उम्र भर के लिए एक.दूसरे के हो जाते हैं। लडक़ा और लडक़ी दोनों ही इस रिश्तें में आने के बाद जिम्मेदारियों को समझने लग जाते है। साथ ही अगर इस रिश्ते की शुरुवत अगर अच्छी है तो ये रिश्ते भी बहुत खुशहाल होता है। इसके लिए ही कई कपल्स, नवविवाहित जोड़े हनीमून का प्लान करते है। तो चलिए आज जानते है आखिर हनीमुन पर जाने की और क्या वजह है जो हर कपल्स अपनी जिंदगी में चाहता है।

एक दूसरे को जानने का मौका: शादी के बाद कुछ दिन तक लडक़ी को बहुत परेशानी होती है, अगर लव मैरिज नहीं हुई हो तो। उन्हे समझने में समय लगता है। वे अपने पार्टनर को भी ठीक तरीके से समझ नहीं पाती है। वैसे कई कपल्स शादी से पहले भी जानने लेते है लेकिन लडक़ा.लडक़ी चाहे कितना भी एक.दूसरे को जानते हो लेकिन हनीमून ही एक ऐसा जरिया है जहां पर खुल कर एक.दूसरे से बात कर सकते हैं। शारीरिक संबंध हनीमून का जरिया नहीं है, यह आपसी विचार सांझा करने का भी जरिया है। जिससे रिश्ते में मिठास भरी रहती है।

रस्मों की थकावट को दूर करता है: शादी की रस्में बहुत दिनों तक चलने वाली होती है। और इसमें सबसे अहस रोल अदा करते है दूल्ह और दूल्हन। इससे जाहिर है कि दोनों की थकावट होना। इसके लिए हनीमुन पर परिवार और रिश्तेदारों से थोड़े दिन दूर रहकर अपने पार्टनर के साथ टाइम बिताने का अच्छा मौका होता है।

यादगार बन जाते है पल: शादी के बाद पार्टनर के साथ बिताए गए हनीमून के पल जिंदगी भर के लिए यादगार बन जाते है। दोनों के दिलों में सुनहरी यादें बन जाते हैं। इन लम्हों को बनाने के लिए हनीमुन पर जाना जरूरी है जिससे ये यादगार पल बन सके। इन्हे संभाल कर रखने के लिए कुछ देर एक साथ बिताना जरूरी है। अगर आपकी शादी भी कुछ दिनों में हुई है या होने वाली है तो हनीमून पर जाने के प्लानिंग जरूर करें। इससे आपके पार्टनर भी खुश हो जाएगा, और दोनों को एक दूसरे को समझने का मौका मिलेंगा।

You may also like

गर्लफ्रेंड की ये इच्छाएं अक्सर अधूरी छोड़ देते है बॉयफ्रेंड
जो कल तक थे आपके दोस्त आज हो गया उन्हे आपसे प्यार, ऐसे करें पता