मकर संक्रांति के वो कांटा के शौर में ना भूल जाए ये बातें

0
828

आसमान में सजी ये पतंगें छत पर खडे व्यक्ति का शौर वो वारा कांटा वो मारा मकर संक्रातिं की रौनक को बढाता हुआ दिखाई देता है इन दिनों मकर संक्रातिं के पर्व की रौनक हर तरफ देखने को मिल रही है इस रंग बिरंगे वातारण से पूरा आसामान पतंगों से सजा हुआ दिखाई देता है इस खूबसूरत वातारण को देखते हुए पतंग बनाने वाले कारीगरों ने खूबसूरत सी पतंगो को डिजाइन किया है जिसे हर कोई अपनी पसंद के अनुसार खरीदना पसंद करता है। पंतग के साथ पंतग के माझे की डोर भी विशेष महत्व रखती है जिसके बिना पंतग उडाना मुश्किल है।

ऐसे में  पतंग और मांझे को खरीदते हुए ध्यान रखें की छोटे बच्चों को ऐसा मांझा ना देवें जिससे उनके हाथ कटने का डर हो। इस खूबसूरत वातारण को देखते हुए आपको कुछ इन बातों का भी ध्यान रखें जिससे सभी इस त्यौहार को खुशी से मना सकें।

अगर आप इस रंग बिरंगे वातारण को और भी खुशनुमा बनाना चाहते है तो इस बात विशेष ध्यान रखें की पतंग उड़ाते समय चाइनीज मांझे का उपायोग ना करें । इससे हाथ कटने और जान जाने का खतरा भी बन सकता है।

छोटे बच्चों का पंतगबाजी के समय विशेषतौर पर ध्यान रखें की उन्हे ऐसी जगह ना खड़े  होने दे जहां छत की डोली ना हो। वरना बच्चा अपनी अज्ञानती की वजह से छत से गिर सकता है।

पंतगबाजी में आपको मानव जीव के साथ पक्षियों का भी ख्याल रखने की जरुरत होती है इसलिए जरुरी है की आप सुबह और शाम के समय पंतग ना उडाएं क्योंकि उस समय पक्षी पंरिदों से निकलकर दाना तलाश्ते है।

और पंतग पाने की लालसा में बच्चों को सड़कों पर पंतग ना लूटने दें वरना उनका एक्सिडेंट भी हो सकता है।

पक्षियों के लिए चलाए गए कैंपेन मे आप भी साथ देवें घायल पक्षियों को सहायता केन्द्र पहुंचाए ताकि उनका ठीक तरह से उपचार हो सके। इन बातों को ध्यान में रखकर आप अपने इस त्यौहार को हंसी खुशी के साथ मना सकते है।

क्या आपको भी है भूलने की बीमारी तो अपनाएं ये उपाय

सर्दी के मौसम में अदरक का करें सेवन , हो जाएगी तमाम बीमारियां दूर

क्या आपकों पता है कि आखिर कौन है, आपका सच्चा दोस्त ?

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

five − three =