शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी को करें प्रसन्न रहेगी धन की वर्षा

0
1164

इंटरनेट डेस्क:सप्ताह के सात दिन होते है ये सातों दिन अपने आप एक विशेष मह्त्व रखते है ऐसा ही कुछ शुक्रवार के दिन को लेकर भी होता है शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी को समर्पित है जिसके लिए विशेष तरह की पूजा-पाठ का विशेष विधान है। शास्त्रों के अनुसार मां लक्ष्मी को बड़ी ही चंचल बताया गया है। चंचलता का मतलब होता है किसी एक स्थान पर अत्यधिक समय तक ना रहना।

ऐसे में मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार के दिन कई तरह की पूजा पाठ का विशेष विधान है  हिंदू मान्यता के अनुसार शुक्रवार को लक्ष्मी का पूजन करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और घर में धन की वर्षा होती है।  हिंदू धर्म में शुक्रवार को मां लक्ष्मी का दिन माना गया है। अगर आप धन लक्ष्मी और वैभव की कामना रखते है तो मां लक्ष्मी को इस तरह से प्रसन्न रखें। जो आपकी आर्थिक तंगी की परेशानी को दूर करेगी।

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करे के लिए विशेष तरह के पूजन और व्रत रखने का विधान है। हिंदू धर्म में लक्ष्मी को धन की देवी माना गया है इसलिए धन को अपने पास स्थाई बनाने के लिए मां लक्ष्मी का पूजन कर उन्हें प्रसन्न रखा जाता है, ताकि मां लक्ष्मी की कृपा हम पर हमेशा से ही बनी रही। इसके लिए हिंदू धर्म में कई उपाय, पूजन, आराधना और मंत्र-जाप आदि का विधान है।

धार्मिक मान्यता के अनुसार मां लक्ष्मी समुद्र-मंथन में निकली थीं। मंथन से पहले सभी देवता गरीब और ऐश्वर्य विहीन थे। समुद्र मंथन में लक्ष्मी के प्रकट होने के बाद इंद्र ने महालक्ष्मी की स्तुति की। इसके बाद महालक्ष्मी के वरदान के बाद उन्हें धन प्राप्त हुआ। जब भी आप मां लक्ष्मी की अराधना करें वह गोपनीय होनी चाहिए  शास्त्रों में महालक्ष्मी के आठ स्वरुपों का वर्णन है। मां के इन स्वरुपों को जीवन की आधारशिला माना गया है जो हमारे हिंदू धर्म में विशेष मह्त्व रखती है। इसलिए जो भी भक्त मां की अराधाना सच्चे मन और निष्ठा से करता है उस पर मां की कृपा हमेशा से ही बनी रहती है।

जानिए, मकर संक्रांति के पर्व को इन जगहों पर कैसे मनाया जाता है?

राजस्थान के बीकानेर में फेमस है ऊंटो की खाल पर बनी ये कलाकृति

 

LEAVE A REPLY

2 × two =