गुरुवार के दिन इस विधि विधान से करेंगे पूजा तो मिलेगा लाभ

0
1106

इंटरनेट डेस्क :आज गुरुवार का दिन है गुरुवार के दिन यदि पीले वस्त्र और पीली चीजों का सेवन किया जाएं तो लाभदायक माना गया है।  वैसे तो ब्रह्मा, विष्‍णु, महेश तीनों त्रिदेव में भगवान विष्णु को संसार के पालनहार का स्थान मिला हुआ है। और इनकी भक्ति करने वाले लोग वैष्णव कहलाते है ।

गुरूवार का दिन भगवान विष्णु को समर्पित माना गया है। इन्‍हें सत्य नारायण भगवान के नाम से भी जाता है, परंतु इस दिन इनकी पूजा और व्रत गुरू भगवान के रूप में की जाती है। अगर आप भी गुरुवार को विशेष तरह की पूजा करते है तो इस तरह की पूजा विधि का आपके लिए विशेष महत्व है।

गुरुवार के दिन जब आप पूजा करें तो पूरी शुद्दि के साथ पूजा और मंत्र जाप के साथ विष्णु जी की धूप, दीप व कपूर से आरती करें जो काफी लाभदायक है इसके बाद चरणामृत व प्रसाद ग्रहण करें। चातुर्मास, एकादशी, द्वादशी व पूर्णिमा तिथियों पर भगवान विष्णु की भक्ति, श्री विष्णु मंत्र का जाप और ध्यान के साथ की गई पूजा आपके लिए बेहद लाभकारी होती है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु के मंत्रो का जाप भी लाभदायक होता है।  ऊं नमोः नारायणाय. ऊं नमोः भगवते वासुदेवाय जैसे ।

स्नान के बाद घर के देवालय में पीले या केसरिया वस्त्र पहन श्रीहरि विष्णु की प्रतिमा को गंगाजल स्नान के बाद केसर चंदन, सुगंधित फूल, तुलसी की माला, पीताम्बरी वस्त्र कलेवा, फल चढ़ाकर पूजा का एक विशेष मह्त्व है। धूप व दीप जलाकर पीले आसन पर बैठ तुलसी की माला लेकर विष्णु गायत्री मंत्र की जैसी श्रद्धा हो उसके अनुसार 1, 3, 5, 11 माला का फेरना लाभदायक होता है।

आखिर क्यों माना जाता है गणपति जी को प्रथम पूज्य जानिए इस दिन से जुड़ी ये दिलचस्प बातें

LEAVE A REPLY