आज कल की भागदौड़ भरी जिदंगी में लोग अपने काम में इतने बिजी हो जाते है कि उन्हें अपनी फिक्र ही नहीं है। कई लोग पूरे दिन की थकान के बाद इतने ज्यादा थक जाते है कि फिर वो अपने ऊपर ध्यान हीं नहंी दे पाते है। अगर आप भी उन लोगो में से एक है तो आपको भी अपने ऊपर ध्यान देना चाहिए, क्योकि अगर आप अपने उपर ध्यान नहीं देगें तो धूल भरी ये हवांए और पॉल्यूशन से आपकी स्किन पर पिंगमेंटेशन की समस्या हो सकती है जो कि आपकी स्किन के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकती है। आइयें देखते है कि हम आखिर कैसे पिगमेंटेशन को दूर कर सकते है।

1. आलू स्किन के रोमछिद्र को खोलने के लिए:-

आलू प्राकृतिक त्वचा ब्लीचिंग का कार्य करता है। ये ऐसा एजेंट है जिससे पिगमेंटेशन कि समस्या लुप्त हो जाती है। इसमें स्टार्च की उपलब्धता बहुतायात में होती है। त्वचा के मलिनीकरण को कम करने और साथ ही त्वचा की चमक को बढ़ावा में ये मदद करता है। आलु को दो भागों में काट लें और आलू के टुकड़े को अपने चेहरे और सभी प्रभावित क्षेत्रों पर रगड़ें, ठंडे पानी के साथ 20 मिनट के बाद धो लें।

इसके अलावा, आप आलू को उबाल कर उसके पानी से भी अपने चेहरे को साफ कर सकते है। 20 मिनट के बाद आलू के पेस्ट को साफ कर ले, ठंडे पानी से धो ले। इस नुस्खे को रोज अपने चेहरे पर इस्तेमाल से आप एक महिन के भीतर भीतर इसका परिणाम पा सकते है। आलू को आप अन्य अवयवों के साथ मिश्रित करके भी इसका पेस्ट तैयार कर सकते हैै। एक चम्मच आलू का रस, एक चम्मच दलिया और एक चम्मच शहद मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर 20 मिनट के लिए छोड़ दें, फिर इसे पानी से साफ कर ले।

2. पिंगमेंटेशन के उपचार के लिए नींबू:-

नींबू का उपयोग दाग और त्वचा का रंग को हल्का करने के लिए यूज किया जाता है। एस्कॉर्बिक एसिड में नींबू मुक्त कणों को निष्क्रिय कर देता है जिसके कारण त्वचा की खामियां पूरी हो जाती है। पिगमेंटेशन के निशान इससे हटने में मदद करते है।

सिर्फ अपने चेहरे पर नींबू के आधे भाग को रगडऩे से निशान हल्के हो जाते है। नींबू और चीनी भी इसके लिए अच्छी होती है। नींबू के रस के साथ 2 चम्मच चीनी ले लो और अपने पिगमेटेंशन वाले स्थान पर लगाए। त्वचा पर इस मिश्रण को कुछ मिनट तक लगाए रखे और फिर धो ले।

3. यह चीनी और नींबू डेड स्किन के लिए :-

ये कोशिकाओं को ढीला करने में मदद करता है और नए कोशिकाओं को बढ़ावा देने में मदद करता है। चीनी में ग्लाइकोकीक एसिड भी दैनिक उपयोग के लिए होता है ये दागों को हल्का करने में मदद करता है।

4. ऑरेंज पिल

साइट्रिक एसिड से भरपूर नारंगी विटामिन सी से भरी होती है। इसकी मदद से पिंगमेंटेशन को हल्का किया जाता है। इसके छिलको को आप सूरज की धूप में सूखा सकते है और सूखने पर इसका पाउडर बना ले। एक चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच दूध, एक चम्मच शहद और एक चम्मच नारंगी पाउडर लें। सभी अवयवों को एक साथ मिलाएं और इसे 20 मिनट के लिए आपकी स्किन पर लगाए रखें। इसके बाद गुनगुने पानी से धो लें। यह होममेड नुस्खा आपकी स्किन पर वाकई रंग लाएगा। ऑरेंज पाउडर को दही के साथ मिश्रित करके लगाए इससे पिगमेंटेशन के निशान और काले धब्बों से निजात पा सकते है।

5. दही

दही लैक्टिक एसिड से समृद्ध होता है जो दाग और त्वचा टोन को हल्का करने में मदद करता है। इसके अलावा, दही एक प्राकृतिक सनस्क्रीन है जो आपकी त्वचा को पराबैंगनी किरणों से बचाता है, जो कि पिगमेंटेशन के निशान का मुख्य कारण है। आप अपने चेहरे पर सादे दही को भी लागू कर सकते हैं और फिर 30 मिनट के बाद इसे धो सकते हैं। इसके अलावा, एक चम्मच शहद को 2 चम्मच दही के साथ मिलाकर अपने चेहरे पर इसे लागू करें। पेगमेंटेशन मार्क्स को हटाने के लिए दही टमाटर का रस मिलाकर मिलाया जा सकता है। दही के सामयिक आवेदन आपकी त्वचा को निष्पक्ष, कोमल और बेदाग बनाते है।

6. दालचीनी

आप पिग्मेंटेशन मार्क्स से छुटकारा पाने में दालचीनी की भी मदद ले सकते है। एक चम्मच शहद और आधा चम्मच नींबू के रस के साथ 2 चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर अपने पूरे चेहरे पर अप्लाई करें। इसके एंटी-माइक्रोबियल गुण बिना किसी भी साइड इफेक्ट के आपकी स्किन को शुद्ध और ताजा रखेगें। इससे मुँहासे और दानों का उपचार किया जाता है।

करिश्मा कपूर अपनी बेटी के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर नजर आई कुछ इस तरह!

क्या आप भी करती है अपने अंडरगार्मेंट्स से जुड़ी इन बातों को इगनोर!

दीपिका पादुकोण की शादी के लिए इस तरह हम कर सकते है उनके हेयर स्टाईल और मेकअप को लेकर तैयारी!

मलाइका अरोड़ा के ये इयररिंग डिजाइन आपके दिल को कर देगें इन्हें लेने के लिए मजबूर!

You may also like

सहेली के फंक्शन में जाना है नहीं है पार्लर जाने का टाइम, ऐसे पन्द्रह मिनट में करें क्लीनअप
इस तरह करें अपना मेकअप, नहीं दिखेंगे पिम्पल्स और गहरे धाग धब्बे